नगालैंड में एनकाउंटर: 3 आतंकी ढेर, टेरिटोरियल आर्मी का एक अफसर शहीद

ehfiufhf

कोहिमा. नगालैंड के मॉन डिस्ट्रिक्ट में टेरिटोरियल आर्मी और आतंकियों के बीच एनकाउंटर हुआ। इस दौरान 3 आतंकी मारे गए। टेरिटोरियल आर्मी का एक अफसर भी शहीद हो गया जबकि 3 जवान जख्मी हो गए। एक सिविलियन की भी मौत हुई है। घायल जवानों को हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। नॉर्थ-ईस्ट से लेकर कश्मीर तक आतंकी गतिविधियांबढ़ीं...
- न्यूज एजेंसी के मुताबिक डिफेंस स्पोक्सपर्सन ने बताया कि तिजित इलाके के लापा में मंगलवार रात नेशनल सोशलिस्ट काउंसिल ऑफ नगालैंड (NSCN-K) और असम राइफल्स के बीच एनकाउंटर हुआ। असम राइफल्स की एक टीम ने लापा में NSCN (K) कैडर के मौजूद होने की सूचना पर वहां रात 11 बजे छापा मारा, उसी दौरान दोनों तरफ से फायरिंग हुई, जो कई घंटों तक चलती रही। एनकाउंटर खत्म होने के बाद वहां 3 आतंकियों की बॉडी पाई गई। उधर, मॉन के पास लापा लेम्पॉन्ग और उटिंग में ULFA और NSCN (K) के आतंकियों के साथ एनकाउंटर अभी जारी है।
- नॉर्थ-ईस्ट से लेकर कश्मीर तक इन दिनों आतंकी गतिविधियां काफी बढ़ गई हैं। पिछले महीने के आखिरी हफ्ते में इंटेलिजेंस एजेंसीज ने नई दिल्ली समेत देश के कई राज्यों में आतंकी हमलों की आशंका जताई थी। जारी अलर्ट में कहा गया था कि 20-21 की संख्या में आतंकी देश में घुसे हैं जो दिल्ली, मुंबई, पंजाब या राजस्थान में किसी साजिश को अंजाम दे सकते हैं।
- उधर, भारत-पाक बॉर्डर पर बढ़ी आतंकी गतिविधियों के मद्देनजर मंगलवार को सीआईएसएफ ने उड़ी स्थित NHPC के दोनों पावर प्लांट को लेकर हाई अलर्ट जारी किया है। वहीं, भारत सरकार के Uri-वन और Uri-टू हाइडल पावर प्रोजेक्ट के मद्देनजर भी इस अलर्ट को काफी गंभीरता से लिया जा रहा है।
नॉर्थ कश्मीर में सीआरपीएफ कैम्प पर हमला
- 5 जून की तड़के नॉर्थ कश्मीर के सुंबल में CRPF के कैंप पर 4 फिदायीन आतंकियों ने हमला किया था, जिन्हें एनकाउंटर में मार गिराया गया। आतंकियों से बरामद हथियारों और पदार्थों को देखते हुए यह आशंका जताई गई है कि आतंकी CRPF कैम्प को जलाने के साथ-साथ ज्यादा से ज्यादा नुकसान पहुंचाने की फिराक में थे। सीआरपीएफ का यह कैम्प श्रीनगर से 34 km दूर है।
अनंतनाग में आर्मी के काफिले पर हमला
- जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में 3 जून को आतंकियों ने आर्मी के काफिले पर हमला किया। काफिले पर फायरिंग जिले के काजीगुंड इलाके में हुई। इसमें 2 जवान शहीद और 6 जख्मी हो गए।
पाक भी कर रहा सीजफायर वॉयलेशन
- इस बीच सीजफायर वॉयलेशन से पाकिस्तान भी बाज नहीं आ रहा है। उसने जम्मू-कश्मीर के पुंछ और कृष्णा घाटी सेक्टर में सीजफायर वॉयलेशन किया। पुंछ में 2 जूनकी रात 11 बजे से पाक की तरफ से मोर्टार दागे गए। वहीं, कृष्णा घाटी सेक्टर में 3 जून को फायरिंग की गई। भारत की तरफ से भी इसका जवाब दिया गया।
भारत ने मारे थे पाक के 5 जवान
- जम्मू-कश्मीर के भिम्बर और बट्टाल सेक्टर में 1 जून को इंडियन आर्मी ने पाकिस्तानी जवानों की फायरिंग का जवाब दिया। इस दौरान PAK के 5 जवान मारे गए और 6 घायल हुए।
- एक जून को ही बारामूला के सोपोर में हुए एनकाउंटर में दो आतंकी मारे गए। ये आतंकी एक घर में छिपे हुए थे। वहीं, एलओसी के पास नौशेरा और कृष्णा घाटी सेक्टर में पाक ने सीजफायर वॉयलेशन किया। गोलीबारी में जनरल रिजर्व इंजीनियरिंग फोर्स (GREF) के एक मजदूर की मौत हो गई और 2 सिविलियंस घायल हो गए थे।
पाक ने 2015 और 2016 में रोज किया सीजफायर वॉयलेशन
- होम मिनिस्ट्री की एक रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान ने 2015 और 2016 में रोज सीजफायर वॉयलेशन किया। इन 2 सालों में पाक के सीजफायर वॉयलेशन में भारत के 23 जवान शहीद हुए। एक आरटीआई के जवाब में होम मिनिस्ट्री ने ये बातें कही थीं।
- रिपोर्ट के मुताबिक 2012 से 2016 के दौरान जम्मू-कश्मीर में 1,142 आतंकी घटनाएं हुईं। इसमें 236 जवान शहीद हुए और 90 सिविलियन्स भी मारे गए।
- "2012-16 के दौरान ही सिक्युरिटी फोर्सेस ने 507 आतंकियों को मार गिराया।"
- गृह मंत्रालय ने अपने जवाब में कहा, "पाकिस्तान ने 2016 में लाइन ऑफ कंट्रोल (LoC) पर 449 और 2015 में 405 बार सीजफायर वॉयलेशन किया।"
जम्मू-कश्मीर में कितनी आतंकी घटनाएं?
- होम मिनिस्ट्री के मुताबिक, "2012 में जम्मू-कश्मीर में 220 और 2016 में 322 आतंकी घटनाएं हुईं। 2016 में 82 जवान शहीद हुए और 15 सिविलियन्स मारे गए।"
- "2015 में 208 आतंकी घटनाएं हुईं। 39 जवान शहीद हो गए और 17 सिविलियन्स मारे गए। इस साल एनकाउंटर में सिक्युरिटी फोर्सेस ने 108 आतंकियों को मार गिराया।"
- "2013 में 170 आतंकी हमले हुए, जिसमें 53 जवान शहीद हो गए और 15 सिविलियन्स की मौत हो गई। फोर्सेस ने 67 आतंकियों को ढेर कर दिया।"
- "2014 में आतंकी घटनाओं में 47 जवान शहीद हुए, 28 सिविलियन्स मारे गए। फोर्सेस के साथ एनकाउंटर में 110 आतंकी मारे गए।"
- "2012 में 220 आतंकी हमलों में 15 जवान शहीद हुए। एनकाउंटर में फोर्सेस ने 72 टेररिस्ट को मार गिराया।"

0 comments